डेबिट कार्ड क्या होता है इन हिंदी?

डेबिट कार्ड क्या होता है इन हिंदी मे हम आपके समक्ष चर्चा करने जा रहे है जी हाँ दोस्तो एक समय था हमलोग बैंक खाते से अपना ही पैसा निकालने के लिए बैंक के लाईन मे घंटो खड़ा हुआ करते थे धीरे-धीरे समय मे परिवर्तन हुआ बैंक मे लम्बी कतार नही लगे इसके लिए बैंको द्वारा डेबिट कार्ड का संचालन किया गया ताकी बैंक मे भीड़ ना लगे आज के समय मे लगभग सभी लोग डेबिट कार्ड के विषय मे जानते है और डेबिट कार्ड का उपयोग भी कर रहे है फिर भी कुछ लोग ऐसे भी है जो डेबिट कार्ड का मतलब क्या होता है के विषय मे कुछ भी नही जानते यदि आपको भी पता नही है तो आज के डिजीटल माहौल मे डेबिट कार्ड की जानकारी अवश्य रखनी चाहिए क्योंकि आज के डिजीटल दौर मे डेबिट कार्ड प्रत्येक व्यक्ति के पास होना आवश्यकता बन गई है इसलिए कभी ना कभी आपको भी डेबिट कार्ड की जरूरत पड़ सकती है तथा डेबिट कार्ड के विषय मे जानने की कोशिश करेंगे चलिए अब बिना टाईम गवाए मुद्दे पर बात करते है और जानते है डेबिट कार्ड क्या है इसका उपयोग क्या है!


डेबिट कार्ड क्या होता है इन हिंदी?
डेबिट कार्ड क्या होता है इन हिंदी?



ये भी पढे- वर्चुअल डेबिट कार्ड क्या होता है?

ये भी पढे- फिज़िकल डेबिट कार्ड क्या होता है?


डेबिट कार्ड क्या है?


यह एक प्लास्टिक कार्ड होता है जिसपर कार्ड धारक का नाम, सोलह डिजीट कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट और कार्ड के पीछे CVV नंबर होता है, बैंको द्वारा डेबिट कार्ड उनलोगो को दिया जाता है जिनका खाता बैंक मे होता है यह कार्ड बैंक अकाउंट से लिंक होता है इसलिए बैंक अकाउंट मे जितना भी पैसा होता है डेबिट कार्ड के जरिए खर्च किये जा सकते है!


डेबिट कार्ड का उपयोग


डेबिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम मशीन से कैस निकासी, होटल, रेस्टोरेंट, पेट्रोल पंप, माॅल इत्यादी जगहो पर स्वैप मशीन के जरिए बिल पेमेंट तथा आनलाईन किसी भी साईट पर किसी भी प्रकार के रीचार्ज, ख़रीदारी मे डेबिट कार्ड के उपयोग से बड़े आसानी से पेमेंट किया जाता है!


डेबिट कार्ड लेने के फायदे


जी हां कोई भी इस्तेमाल करने से पहले उसके फायदे जरूर देखना चाहिए यदि डेबिट लेने के फायदे की बात किया जाए तो सबसे प्रथम आपको अपने ही बैंक खाता से पैसे निकालने के लिए बैंक का बार-बार दौरा और लाईन मे लगना नही परेगा पैसे की आवश्यकता परने पर डेबिट कार्ड से कही भी किसी भी एटीएम से कैस निकाल सकते है तथा आनलाईन वेबसाइट पर रीचार्ज एवं ख़रीदारी मे बिल पेमेंट करने के उपरांत छूट और कैसबैक प्राप्त कर सकते है सबसे बड़ी फायदा ये भी है आप डेबिट कार्ड यूज से नेटबैकिंग और मोबाइल बैंकिंग शुरू कर सकते है!


डेबिट कार्ड के प्रकार


भारत मे सरकारी और प्राइवेट अनगिनत बैंक है सभी बैंक अपने-अपने खाताधारक के लिए डेबिट कार्ड जारी करता है अब यदि डेबिट कार्ड की बात हो रही है तो आपको ये भी याद रखना चाहिए सभी भारतीय बैंक कई तरह के कार्ड प्रोवाइड करता है इसलिए महत्वपूर्ण हो जाता है व्यक्ति को अपने फायदे के अनुसार कार्ड का चुनाव करना चाहिए चलिए आगे जानते है डेबिट कार्ड कितने तरह के बैंको द्वारा जारी किए जाते है!



रूपए, वीज़ा, मास्टर, मैस्ट्रो डेबिट कार्ड के उपयोग


दोस्तो सबसे प्रथम कार्ड की पहचान की बात किया जाए तो जिस कार्ड पर Rupay का Logo लगा होता है वह रूपए डेबिट कार्ड होता है तथा ठिक इसी प्रकार कार्ड पर Logo से पहचान कर सकते है ये कार्ड रूपए, वीज़ा, मास्टर, मैस्ट्रो कौन सा डेबिट कार्ड है अब यदि रूपए डेबिट कार्ड के इस्तेमाल की बात किया जाए तो यह भारतीय पेमेंट नेटवर्क NPCI नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन ऑफ इंडिया के द्वारा लेन-देन की प्रक्रिया को पूरा किया जाता है इसलिए रूपए डेबिट कार्ड का इस्तेमाल केवल भारत मे एटीएम से कैस निकासी के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के रीचार्ज से लेकर बिल पेमेंट मे उपयोग कर सकते है रूपए डेबिट कार्ड सबसे ज्यादा लोग लेना पसंद करते है क्योंकि यह स्वदेशी कार्ड है तथा खाताधारक को सालाना मामूली सर्विस चार्ज बैंक को देना होता है! दोस्तो वीजा, मास्टर, मैस्ट्रो डेबिट कार्ड का संचालक विदेशी कंपनी है ये सभी कार्ड के लेन-देन प्रक्रिया को विदेशी पेमेंट नेटवर्क के देखरेख मे ही पूरा होता है इसलिए वीज़ा, मास्टर, मैस्ट्रो डेबिट कार्ड का उपयोग देश विदेश लगभग सभी देश मे मान्य है तथा इन सभी कार्ड का उपयोग एटीएम से कैस निकालने, स्वैप मशीन के जरिए बिल पेमेंट तथा आनलाईन नेशनल इंटरनेशनल सभी साईटस पर ख़रीदारी मे पेमेंट किया जा सकता है लेकिन एक बात याद रखे वीज़ा, मास्टर, मैस्ट्रो डेबिट कार्ड इंटरनेशनल कार्ड होता है इसलिए इन सभी कार्ड के लिए भारतीय बैंको द्वारा सालाना सर्विस चार्ज रूपय कार्ड के अपेक्षा कुछ ज्यादा ही उपयोगकर्ता से लिया जाता है! अगर बात करे कौन सा डेबिट कार्ड बैंक से लेना चाहिए तो इसका सीधा सीधा उत्तर है यदि आप भारत मे रहते है विदेश नही जाते केवल भारत मे डेबिट कार्ड का उपयोग करना चाहते है तो रूपए कार्ड आपके लिए लेना फायदेमंद हो जाता है और यदि आप देश विदेश जाते है इंटरनेशनल साईटस पर ख़रीदारी करना पसंद करते है तो वीज़ा, मास्टर, मैस्ट्रो मे से किसी एक कार्ड को चुनना आवश्यक बन जाता है ऐसे मे आप बैंक कर्मचारी या बैंक के वेबसाइट पर जाकर देख सकते है कौन सा इंटरनेशनल डेबिट कार्ड आपका बैंक जारी करता है तथा उसका उपयोग और लिमिटेशन क्या है!


डेबिट कार्ड कैसे बनता है?


डेबिट कार्ड प्राप्त और उपयोग करने के लिए सबसे प्रथम किसी भी भारतीय बैंक आपका बैंक खाता ओपेन कराना अनिवार्य है यदि खाता कोई बैंक मे मौजूद है तो बैंक मे डेबिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है! आज-कल बहुत ऐसे प्राइवेट कंपनी है जो ऐप के माध्यम से बैंकिंग सेवाए प्रदान करा रही है आप पेटीएम ऐप मे रजिस्टर और केवाईसी के उपरांत पेटीएम पेमेंट बैंक के माध्यम से पेटीएम फिज़िकल डेबिट कार्ड प्राप्त और इस्तेमाल कर सकते है!


एटीएम कार्ड बनाने के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए


एसबीआई जैसे सरकारी बैंक मे डेबिट कार्ड आवेदक का उम्र अठारह वर्ष का होना अनिवार्य है लेकिन कुछ ऐसे प्राइवेट बैंक है जो बारह वर्ष के आयू वाले के लिए डेबिट कार्ड जारी कर देता है!


डेबिट कार्ड बनाने के लिए ज़रूरी डोकोमेन्ट्स


शायद आप समझ गये होंगे डेबिट कार्ड बनाने के लिए सबसे प्रथम किसी बैंक मे अकाउंट होना आवश्यक होता है उसके बाद डेबिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है डेबिट बनाने हेतू जरूरी दस्तावेज की बात किया जाए तो बैंक पासबुक और आधार कार्ड कार्ड का फोटो काॅपी के साथ साथ एक सादा पेज पर आवेदन पत्र लिखकर देना होता है!


डेबिट कार्ड कितने दिन में बनकर आता है?


कुछ प्राइवेट बैंक है जो आवेदन करने के तुरंत बाद हाथो हाथ मे डेबिट कार्ड दे देता है मगर खासकर सरकारी बैंको की बात किया जाए तो आवेदन के उपरांत आपके एड्रेस पर डेबिट कार्ड डाक द्वारा भेज देता है जो की लगभग पंद्रह बीस दिन मे प्राप्त हो जाता है!

Post a Comment

Previous Post Next Post