किस बैंक को बैंकों के बैंक के रूप में जाना जाता है?

किस बैंक को बैंकों के बैंक के रूप में जाना जाता है (Kis Bank Ko Banko Ke Bank Ke Rup Me Jana Jata Hai) इसका सिधा और संपष्ट उत्तर है आरबीआई (RBI) यानि रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया भारत के सभी बैंकों का बैंक है क्योंकि हमारें देश भारत में कई प्रकार के बैंक मौजूद है और सभी बैकों का लाइसेंस जारी या रद्द करने का अधिकार भारतीय कानून के मुताबिक केवल रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया को दिया गया है । रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया की खास बात ये भी है कि भारत में मौजूद सभी प्रकार के बैंकों को इसके दिशानिर्देश पर कार्य करना परता है और जब किसी बैंक को कर्ज की जरूरत होती है तो उस बैंक को रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया कर्ज प्रदान करता है । रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया यानि भारतीय रिज़र्व बैंक को केंद्रीय बैंक भी कहा जाता है इस बैंक पर पूर्णत भारत सरकार का स्वामित्व है एवं इसके प्रधान कार्यालय में भारत सरकार के प्रतिनिति वित्त मंत्री बैठते है और देश के आर्थिक और समाजिक विकास हेतु नितिया बनाती है ।



किस बैंक को बैंकों के बैंक के रूप में जाना जाता है?
किस बैंक को बैंकों के बैंक के रूप में जाना जाता है?




रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया का इतिहास (History Of Reserve Bank Of India)


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना 1 अप्रैल 1935 में हुई थी और इसका राष्ट्रीयकरण स्वतंत्रता के बाद भारत सरकार द्वारा 1 जनवरी 1949 में किया गया और अभी रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के मुख्यालय मुबंई में स्थित है, परंतु इस सर्वोच्च बैंक के इतिहास पर संक्षेप में चर्चा किया जाए तो 1920 के दशक में ब्रिटिश सरकार द्वारा स्थापित संस्था 'हिल्टन यंग आयोग' भारतीय मुद्रा और वित्त पर रॉयल कमीशन था, इस आयोग ने 1926 में ब्रिटिश सरकार से भारत में एक केंद्रीय बैंक बनाने की सिफारिश किया, जिसके उपरांत 1934 में संसद में केंद्रीय बैंक स्थापित हेतु विधेयक पेश किया गया तथा गवर्नर जनरल की सहमति प्राप्ति के बाद रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना RBI एक्ट, 1934 के तहत किया गया था, भारतीय रिज़र्व बैंक संस्थापकों में डॉ. भीमराव अम्बेडकर भी शामिल थे जिन्होंने स्थापित के समय अपना महत्वपूर्ण दिशा निर्देश प्रदान किए थे । प्रारंभ में रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया निजी स्वमित्व वाला बैंक के रूप में कार्य कर रहा था, लेकिन स्वतंत्रता के पश्चात भारतीय सरकार ने अपने अधीन लेते हुए RBI एक्ट, 1949 के तहत विभिन्न प्रकार के फैसले लेने का अधिकार भारतीय रिज़र्व बैंक को शौप दिया, जिसके बाद से रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया भारत का सर्वोच्च बैंक यानि बैंकों के बैंक के रूप में कार्य कर रहा है।



ये भी जानिए:-


सरकारी बैंकों के नाम लिस्ट

केंद्रीय बैंक के कार्य क्या है?

स्टेट बैंक के कार्य क्या है?

भारत में कितने प्रकार के बैंक है?

स्टेट बैंक का पुराना नाम क्या है?

भारत में कुल कितने सरकारी बैंक है?

भारत में कुल कितने प्राइवेट बैंक है?

रिज़र्व बैंक और स्टेट बैंक में अंतर क्या है?

सरकारी और प्राइवेट बैंक में क्या अंतर है?

बैंक कितने प्रकार के जमा स्वीकार करता है?

Post a Comment

Previous Post Next Post