भारतीय स्टेट बैंक के कार्य (Functions Of State Bank Of India)

भारतीय स्टेट बैंक के कार्य (Functions Of State Bank Of India) के बारें में जानने आये है तो आपको भलीभांति पता होगा SBI जिसे भारतीय स्टेट बैंक कहा जाता है और ये एक वाणिज्य बैंक है यानि इस बैंक को वाणिज्यिक बैंक, व्यापारिक बैंक या व्यावसायिक बैंक भी कहा जा सकता है या अंग्रेज़ी में कमर्शियल बैंक भी बोल सकते है । अब यदि मुद्दे पर बात किया जाए तो आपको ये भी पता होगा भारतीय स्टेट बैंक सरकार का स्वामित्व वाला यानि सरकारी क्षेत्र के सबसे बड़ा व्यावसायिक बैंक है और इस बैंक को सरकार द्वारा नियंत्रित एवं संचालित किया जाता है । परंतु यदि आपको पता नही है भारतीय स्टेट बैंक के कार्य क्या है तो हमारे साथ बने रहे हम इस आर्टिकल में आपको Bhartiya State Bank Ke Karya के संदर्भ में विस्तृत जानकारी विस्तार पूर्वक देने जा रहे है-



भारतीय स्टेट बैंक के कार्य (Functions Of State Bank Of India)
भारतीय स्टेट बैंक के कार्य (Functions Of State Bank Of India)




भारतीय स्टेट के कार्य (Functions Of State Bank Of India)


भारतीय स्टेट बैंक (State Bank Of India) तीन प्रकार के प्रमुख कार्य करता है:-


1. मुख्य कार्य (Main Work)

2. गौण कार्य (Secondary Work)

3. सामाजिक कार्य (Social Work)



भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य कार्य (Main Functions Of State Bank Of India)


सर्वप्रथम भारतीय स्टेट बैंक अपना मुख्य कार्य में जनता के पैसे स्वीकार और जरूरत पड़ने पर जनता को ऋण मुहैया करता है । जनता के पैसे स्वीकार करने हेतु भारतीय स्टेट बैंक द्वारा बचत जमा खाता, चालु जमा खाता, सावधि जमा खाता, आवर्ती जमा खाता खोलने की सलाह दी जाती है एवं जनता को विभिन्न तरीको से उचित ब्याॅज दरों पर ऋण उपलब्ध कराने के कार्य भी करता है ।



भारतीय स्टेट बैंक के गौण कार्य (Secondary Functions Of State Bank Of India)


भारतीय स्टेट बैंक के गौण कार्य निम्नलिखित प्रकार है:-


भारतीय स्टेट बैंक अपने ग्राहकों के चेक, ब्याज आदि को Collect और उसका भुगतान करता है ।


ग्राहकों को लॉकर की सुविधा देता है जिनमें ग्राहक अपनी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को रख सकता है ।


भारतीय बैंक विदेशी मुद्रा का विनिमय कर अंतराष्ट्रीय व्यापार को बढ़ाने का कार्य करता है।


भारतीय स्टेट बैंक अपने ग्राहकों को वित्तीय मामलों में सलाह एवं विभिन्न प्रकार की प्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने का भी कार्य करता है।



भारतीय स्टेट बैंक के सामाजिक कार्य (Social Work Of Commercial Bank)


भरतीय स्टेट बैंक पूंजी निर्माण करने का कार्य करता है जिससे देश के विकास में मदद मिलता है ।


भारतीय स्टेट बैंक जनता को उचित ब्याज दरों पर ऋण प्रदान करता है जिसके कारण लोग अपनी जरूरतें आसानी से पूरी करते है ।



ये भी जानिए:-


भारतीय स्टेट बैंक का पुराना नाम क्या है?

भारतीय स्टेट बैंक की स्थापना कब हुई?

भारतीय स्टेट बैंक का राष्ट्रीयकरण कब हुआ?

स्टेट बैंक और रिज़र्व बैंक में क्या अंतर है?

सरकारी और प्राइवेट बैंक में क्या अंतर है?

पासबुक और चेकबुक में क्या अंतर है?

भारत में सरकारी बैंक कौन-कौन से है?

केंद्रीय बैंक और वाणिज्यिक बैंक में क्या अंतर है?

भारत में कुल कितने व्यावसायिक बैंक मौजूद है?

भारत का सबसे पुराना बैंक कौन सा है?

बैंक खाता कितने प्रकार के होते है?

Post a Comment

Previous Post Next Post