भारत में अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के है? - Types Of Scheduled Bank In India

दोस्तों जैसा की हमलोग जानतें है वर्तमान समय में भारत में कई प्रकार के बैंक मौजूद है और लगभग सभी बैंकों का इतिहास बहुत पुराना है । यदि बात किया जाए भारत में अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के है? तो इसके प्रकार को बेहतर ढंग से जानने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 को संक्षेप में समझना भी आवश्यक है । शुरूआत 1934 से पहलें भारत में बैंकों का वर्गीकरण नही था, अंग्रेज़ी संसद में ब्रिटिश सरकार द्वारा भारतीय रिज़र्व बैंक एक्ट, 1934 क़ानून बनाया गया और इस कानून के तहत अनुसूचित और गैर-अनुसूचित के रूप में बैंकों का विभाजन किया गया यानि रिज़र्व बैंक एक्ट, 1934 के द्वितीय अनुसूची में शामिल बैंकों को अनुसूचित बैंक और इस एक्ट के द्वितीय अनुसूची से बाहर वालें बैंकों को गैर-अनुसूचित बैंक में विभाजित किया गया । अब बात रही अनुसूचित बैंक क्या है या गैर-अनुसूचित बैंक क्या है तो इसपर मै विस्तार से जानकारी दे चुका हूँ । इस लेख में अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के होतें है और अनुसूचित बैंकों के नाम बताने जा रहें है ।



अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के है? - Types Of Scheduled Bank In Hindi
अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के है? - Types Of Scheduled Bank In Hindi




अनुसूचित बैंक के प्रकार - Types Of Scheduled Bank In Hindi


जिस तरह से भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 कानून के अनुसार भारतीय बैंकों को अनुसूचित और गैर-अनुसूचित दो भागों में वर्गीकृत किया गया है ठिक उसी प्रकार अनुसूचित बैंकों में शामिल बैंक दो समूहों में विभाजित है-


1. वाणिज्य बैंक - Commercial Banks

2. सहकारी बैंक - Cooperative Banks



वाणिज्य बैंक क्या है? -  What Is Commercial Bank In Hindi


जनता के पैसे जमा स्वीकार करना और जरूरत पर पर ऋण उपलब्ध कराने एवं विभिन्न प्रकार के बैकिंग सेवाए प्रदान करने वाले बैंकों को अनुसूचित वाणिज्य (Scheduled Commercial) बैंक कहा जाता है । यहां पर याद रखने की जरूरत है वाणिज्य बैंक जिसे वाणिज्यिक, व्यापारिक या व्यावसायिक बैंक के नाम से भी जाना जाता है । भारत में अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के स्वामित्व और संचालन के आधार पर चार अलग-अलग समूहों में वर्गीकृत किया गया है- 




सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक या राष्ट्रीयकृत बैंक उन वित्तीय संस्था को कहा जाता है जिसमें सरकार की हिस्सेदारी 50% से ज्यादा होती है । कुछ वर्ष पहले सरकार द्वारा कुछ सार्वजनिक क्षेत्र के वाणिज्यिक बैंकों को एक दूसरें में विलय किया गया था । वर्तमान समय में सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के नाम निम्नलिखित है-


स्टेट बैक - State Bank


सेन्ट्रल बैंक - Central Bank


यूनियन बैंक - Union Bank


बरौदा बैंक - Baroda Bank


बैंक ऑफ इंडिया - Bank Of India


केनरा बैंक - Canara Bank


इंडियन बैंक - Indian Bank


यूको बैंक - Uco Bank


पंजाब नेशनल बैंक Punjab National Bank


बैंक ऑफ महाराष्ट्रा - Bank Of Maharashtra


पंजाब एंड सिंद बैंक - Punjab Sydney Bank 


इंडियन ओवरसीज बैंक - Indian Overseas Bank



निजी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक 


जिस वित्तीय संस्था में 50% से अधिक निजी व्यक्तियो का शेयर लगा होता है वह प्राइवेट स्वामित्व वाला अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक कहलाते है, जैसे की निजी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के लिस्ट निम्नलिखित है-


आईसीआईसीआई बैंक - ICICI Bank Ltd


ऐक्सिस बैंक - Axis Bank Ltd


बंधन बैंक - Bandhan Bank Ltd


आईडीबीआई बैंक - IDBI Bank


सिटी यूनियन बैंक - City Union Bank Ltd


डीसीबी बैंक - DCB Bank Ltd


धनलक्ष्मी  बैंक - Dhanlaxmi Bank Ltd


फेडरल बैंक - Federal Bank Ltd


एचडीएफसी बैंक - HDFC Bank Ltd


इंदुसिंद बैंक - Indusind Bank Ltd


आईडीएफसी बैंक - IDFC Bank Ltd


येस बैंक  - YES Bank


कर्नाटका बैंक - Karnataka Bank Ltd


करूर वैश्य बैंक - Karur Vysya Bank Ltd


साउथ इंडियन बैंक - South Indian Bank


लक्ष्मी विलास बैंक - Lakshmi Vilas Bank Ltd


नैनीताल बैंक - Nainital bank Ltd


आरबीएल बैंक - RBL Bank Ltd


कोटक महिंद्रा बैंक - Kotak Mahindra Bank Ltd


कैथोलिक सीरियन बैंक - Catholic Syrian Bank Ltd


जम्मू एंड कश्मीर बैंक - Jammu & Kashmir Bank


तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक - Tamilnadu Mercantile Bank



विदेशी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


जिस बैंक का हेडक्वार्टर विदेश में है और उनकी शाखाए भारत में मौजूद है ये बैंक विदेशी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक कहलाते है । विदेशी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के नाम निम्नलिखित है-


सिटी बैंक – अमेरिका


अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक – अमेरिका


ओमान इण्‍टरनेशनल बैंक – बैंक


बैंक इंटरनेशनल इंडोनेशिया – इंडोनेशिया


बैंक ऑफ अमेरिका – अमेरिका


क्रंग थाई बैंक पब्लिक कम्‍पनी लि0 – थाईलैण्‍ड


मिजुहो कॉर्पोरेट बैंक लि0 – जापान


बैंक ऑफ बहरीन एण्‍ड कुवैत – बहरीन


बैंक ऑफ नोवा स्‍कोटिया – कनाडा


चाइटना ट्रस्‍ट कॉमर्शियल बैंक – ताइवान


जे पी मोरगन चेज बैंक – अमेरिका


अरब बांग्लादेश बैंक – बंग्लादेश 


सोनाली बैंक – बांग्‍लादेश


अबू धाबी वाणिज्यिक बैंक लिमिटेड – यूएई


वार्कलेज बैंक पी एल सी – ब्रिटेन


सिनहन बैंक – हांगकांग


ड्यूश बैंक – जर्मनी


बैंक ऑफ सीलोन – श्री लंका


मशरेक बैंक लि0 – यूएई


कलयोन बैंक – फ्रांस


ग्रामीण स्तर के अनुसूचित क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक


बैंकिंग सेवाओ से वंचित लोगों को जोड़ने हेतु इस प्रकार के बैंक सरकार या सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों द्वारा खासकर ग्रामीण इंलाको में संचालित किए जाते है । क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के नाम निम्नलिखित प्रकार है-


Allahabad UP Gramin Bank


Andhra Pradesh Grameena Vikas Bank


Andhra Pragathi Grameena Bank


Arunachal Pradesh Rural Bank


Assam Gramin Vikash Bank


Bangiya Gramin Vikash Bank


Baroda Gujarat Gramin Bank


Baroda UP Gramin Bank


Baroda Rajasthan Ksethriya Gramin Bank


Bihar Gramin Bank


Central Madhya Pradesh Gramin Bank


Chaitanya Godavari Grameena Bank


Chattisgarh Rajya Gramin Bank


Dena Gujarat Gramin Bank


Ellaquai Dehati Bank



सहकारी बैंक क्या है? - What Is Cooperative Banks In Hindi


सहकारी बैंकों का स्वामित्व और नियंत्रण सदस्यों द्वारा किया जाता है एवं भारतीय रिज़र्व बैंक की देखरेख में कार्य करता है यानि सहकारी बैंक भारतीय रिज़र्व बैंक कानुन, 1949, 1965 के अंतर्गत आता है । भारत में सहकारी बैंकों के नाम निम्नलिखित है-


Janata Cooperative Bank


Kalupur Cooperative Bank


NKGSB Cooperative Bank


Saraswat Cooperative Bank Ltd


COSMOS Cooperative Bank Ltd


Shamrao Vithal Cooperative Bank


Abhyudaya Cooperative Bank Ltd


Bharat Cooperative Bank Ltd


The Thane Janata Sahakari Bank


Punjab & Maharashtra Cooperative Bank



ये भी पढ़िये:-


बैंकों का बैंक किसे कहा जाता है?

बैंकों का राष्ट्रीयकरण क्या होता है?

भारत में बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब हुआ?

रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण कब हुआ?

रिजर्व बैंक और स्टेट बैंक में क्या अंतर है?

Post a Comment

Previous Post Next Post