अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं (What Are Scheduled Banks Called)

अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं (What Are Scheduled Banks Called) सरल शब्दों में समझने कि कोशिश किया जाए तो आपलोग अवश्य ही जानते होगें हमारे देश भारत में सभी प्रकार के बैंकों के लिए नियम और दिशानिर्देश बनाने का अधिकार एकमात्र भारतीय रिज़र्व बैंक को प्राप्त है क्योंकि भारतीय रिज़र्व बैंक देश का सर्वोच्च बैंक यानि केंद्रीय बैंक है । अब यदि मुद्दे पर बात किया जाए अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं तो हमारें देश में भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के अनुसार बैंकिंग क्षेत्र को अनुसूचित (Scheduled) और गैर-अनुसूचित (Non-Scheduled) दो समूहों में विभाजित किया गया है, अर्थात जिन बैंकों को भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के द्वितीय अनुसूचित में शामिल किया गया है उन बैकों को अनुसूचित बैंक कहा जाता है और इस अधिनियम से बाहर रहने वाले बैंक गैर-अनुसूचित बैंक कहलाते है यानि भारतीय रिज़र्व बैंक अनुसूचित समूहों में उन बैंकों को शामिल करता है जो बैंक अधिनियम की धारा 42(6)(क) के मानदंडों का अक्षरशः पालन करता है, और इसके साथ ही अनुसूचित श्रेणी के बैंकों को दो अन्य शर्तों को पुरा करना होता है जैसे की अनुसूचित बैंकों की भुगतान पूंजी और एकत्रित पूँजी पांच लाख रुपय से कम नहीं होना चाहिए और अनुसूचित बैंकों की कोई भी गतिविधि जमाकर्ताओं के हितों पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं डालेगी ।




अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं (What Are Scheduled Banks Called)
अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं (What Are Scheduled Banks Called)




अनुसूचित बैंक के प्रकार (Types Of Scheduled Bank In India)


अनुसूचित समुह में खासकर वाणिज्य (Commercial Bank) शामिल होते है जिसे अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक, अनुसूचित व्यापारिक बैंक या अनुसूचित व्यावसायिक बैंक भी कहा जा सकता है । अनुसूचित बैंकों के स्वामित्व और संचालन के आधार पर इसके निम्नलिखित प्रकार होते हैं-


1. सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक वैसे बैंक होते है जिसपर सरकार का स्वामित्व होता है एवं सरकार के नियंत्रण में संचालित किया जाता है, इस प्रकार के बैंकों को सार्वजनिक बैंक, राष्ट्रीयकृत बैंक या सरकारी बैंक भी कहा जाता है । वर्तमान में हमारें देश भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों की संख्या निम्नलिखित है-


  • भारतीय स्टेट बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • केनरा बैंक
  • यूनियन बैंक
  • इंडियन बैंक
  • यूको बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया


2. निजी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


निजी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक वैसे बैंक होते है जिसपर निजी व्यक्तियों का स्वामित्व होता है और इनके द्वारा ही नियंत्रित और संचालित किया जाता है, ऐसे बैंकों को प्राइवेट बैंक भी कहा जाता है, वर्तमान में निजी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों की संख्या निम्नलिखित है-


  • एचडीएफसी बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • बंधन बैंक
  • सीएसबी बैंक
  • यस बैंक
  • सिटी यूनियन बैंक
  • डीसीबी बैंक
  • धनलक्ष्मी बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • फेडरल बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • इंडसइंड बैंक
  • जम्मू और कश्मीर बैंक
  • कर्नाटक बैंक
  • करूर वैश्य बैंक
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • नैनीताल बैंक
  • आरबीएल बैंक
  • साउथ इंडियन बैंक
  • तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक
  • आईडीएफसी फर्स्ट बैंक


3. ग्रामीण क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


इस प्रकार के बैंकों को सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंक द्वारा प्रायोजित किया जाता है इन बैंकों को क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक कहा जाता है क्योंकि ये बैंक ज्यादातर ग्रामीण इलाक़ों में देखने को मिल जाता है, भारत में क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों की संख्या निम्नलिखित है-


  • आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक
  • आंध्र प्रगति ग्रामीण बैंक
  • अरुणाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक
  • आर्यावर्त ग्रामीण बैंक
  • असम ग्रामीण विकास बैंक
  • बंगिया ग्रामीण विकास बैंक
  • बड़ौदा गुजरात ग्रामीण बैंक
  • बड़ौदा राजस्थान ग्रामीण बैंक 
  • बड़ौदा यूपी ग्रामीण बैंक
  • चैतन्य गोदावरी ग्रामीण बैंक
  • छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक
  • दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक
  • एलाक्वाई देहाती ग्रामीण बैंक
  • हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक
  • जम्मू-कश्मीर ग्रामीण बैंक
  • झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक
  • कर्नाटक ग्रामीण बैंक
  • कर्नाटक विकास ग्रामीण बैंक
  • केरल ग्रामीण बैंक
  • मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक
  • मध्यांचल ग्रामीण बैंक
  • महाराष्ट्र ग्रामीण बैंक
  • मणिपुर ग्रामीण बैंक
  • मेघालय ग्रामीण बैंक
  • मिजोरम ग्रामीण बैंक
  • नागालैंड ग्रामीण बैंक
  • ओडिशा ग्राम्य बैंक
  • पश्चिम बंगा ग्रामीण बैंक
  • प्रथम यूपी ग्रामीण बैंक
  • पुदुवई भरथियार ग्राम बैंक
  • पंजाब ग्रामीण बैंक
  • राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक
  • सप्तगिरी ग्रामीण बैंक
  • सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक
  • सौराष्ट्र ग्रामीण बैंक
  • तमिलनाडु ग्राम बैंक
  • तेलंगाना ग्रामीण बैंक
  • त्रिपुरा ग्रामीण बैंक
  • उत्कल ग्रामीण बैंक
  • उत्तर बंगा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
  • उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक
  • उत्तराखंड ग्रामीण बैंक
  • विदर्भ कोंकण ग्रामीण बैंक


4. विदेशी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक


भारत में कार्यरत जिस बैंक का मुख्यालय विदेश में है वैसे बैंक को विदेशी क्षेत्र के अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक कहा जाता है, हमारें देश भारत में विदेशी क्षेत्र के बैंक निम्नलिखित है- 


  • सिटी बैंक – अमेरिका
  • अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक – अमेरिका
  • ओमान इण्‍टरनेशनल बैंक – बैंक
  • बैंक इंटरनेशनल इंडोनेशिया – इंडोनेशिया
  • बैंक ऑफ अमेरिका – अमेरिका
  • क्रंग थाई बैंक पब्लिक कम्‍पनी लि0 – थाईलैण्‍ड
  • मिजुहो कॉर्पोरेट बैंक लि0 – जापान
  • बैंक ऑफ बहरीन एण्‍ड कुवैत – बहरीन
  • बैंक ऑफ नोवा स्‍कोटिया – कनाडा
  • चाइटना ट्रस्‍ट कॉमर्शियल बैंक – ताइवान
  • जे पी मोरगन चेज बैंक – अमेरिका
  • अरब बांग्लादेश बैंक – बंग्लादेश 
  • सोनाली बैंक – बांग्‍लादेश
  • अबू धाबी वाणिज्यिक बैंक लिमिटेड – यूएई
  • वार्कलेज बैंक पी एल सी – ब्रिटेन
  • सिनहन बैंक – हांगकांग
  • ड्यूश बैंक – जर्मनी
  • बैंक ऑफ सीलोन – श्री लंका
  • मशरेक बैंक लि0 – यूएई
  • कलयोन बैंक – फ्रांस



ये भी जानिए:-


अनुसूचित बैंक के कार्य क्या है?

गैर-अनुसूचित बैंक किसे कहते हैं?

निजी क्षेत्र के बैंक किसे कहते हैं?

गैर-अनुसूचित बैंक के नाम लिस्ट

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक किसे कहते हैं?

भारत में अनुसूचित बैंक कितने प्रकार के है?

अनुसूचित और गैर-अनुसूचित बैंक में क्या अंतर है?

बैंक कितने प्रकार के जमा राशि स्वीकार करता है?

सरकारी और प्राइवेट बैंक में क्या अंतर है?

Post a Comment

Previous Post Next Post