सैलेरी अकाउंट के फायदे (Salary Account Ke Fayde)

सैलरी अकाउंट के फायदे (Salary Account Ke Fayde) की जानकारी प्राप्त करने आये है तो आपको भलीभांति पता चल गया होगा, सैलरी अकाउंट जिसे हिंदी में वेतन खाता भी कहा जाता है, और यह खाता खासकर कर्मचारियों के लिए कंपनी या संस्था द्वारा खुलवाया जाता है, ताकि कर्मचारियों की उनके प्रतिमाह की तनख्वाह देने में आसानी हो सके, लेकिन कुछ नये लोग किसी कंपनी या संस्था में ज्वाइनिंग करते है तो वे सोच में पड़ जाते है सैलरी अकाउंट खुलवाने के क्या फायदे है । अगर आप भी उन्हीं लोगों में से एक है तो चितां करने की कोई जरूरत नही है, पुरी लेख अवश्य पढ़े इस लेख में हम आपके समक्ष विस्तारपूर्वक सैलरी अकाउंट यानि वेतन खाता के फायदे के बारें में बताने जा रहे हैं ।




सैलेरी अकाउंट के फायदे (Salary Account Ke Fayde)
सैलेरी अकाउंट के फायदे (Salary Account Ke Fayde)





सैलरी सेविंग अकाउंट के फायदें (Salary Savings Account Benefits)


1. सैलरी अकाउंट को ओपेन कराने के लिए किसी भी तरह का न्यूनतम राशि देना नही होता है ।


2. सैलरी अकाउंट में मिनिमम बैलेंस बनाये रखने की आवश्यकता नही पड़ती है ।


3. कंपनी या संस्था द्वारा प्रत्येक महीने की तनख्वाह आसानी से अकाउंट में मिल जाता है । 


4. अन्य सेविंग अकाउंट के बराबर सैलरी अकाउंट में जमा राशि पर ब्याॅज दिया जाता है ।


5. अन्य सेविंग अकाउंट की तरह सैलरी अकाउंट होल्डर को नेटबैकिंग, मोबाइल बैंकिंग, एटीएम कार्ड, पासबुक, चेकबुक जैसी सर्विस मिल जाती है ।


6. सैलरी अकाउंट होल्डरों को फ्री में एटीएम कार्ड दिया जाता है, और इसका अनलिमिटेड इस्तेमाल किसी भी एटीएम मशीन से कैस निकासी में कर सकता है, इसके लिए चार्ज देना नही पड़ता है ।


7. सैलरी अकाउंट होल्डरों को बड़े ही आसानी से क्रेडिट कार्ड और किसी भी प्रकार का लोन की मंजूरी न्यूनतम दरों पर मिल जाती है । 


8. सैलरी अकाउंट होल्डरों को कुछ बैंकों द्वारा ओवरड्राफ्ट की सुविधाए भी दी जाती है, जिसके तहत अकाउंट में पैसा ना रहने के क्रम में निकासी कर सकता है, और तय सीमा के अंदर निकासी की गई राशि जमा कर सकता है ।




ये भी जानिए:-


ओवरड्राफ्ट क्या होता है?

बचत खाता किसे कहते हैं?

चालू खाता किसे कहते हैं?

आवर्ती खाता किसे कहते हैं?

सावधि खाता किसे कहते हैं?

माइनर अकाउंट क्या होता है?

सैलरी अकाउंट क्या होता है?

ज्वॉइंट अकाउंट क्या होता है?

चेक कितने प्रकार के होते है?

सेविंग अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं?

सैलरी अकाउंट में कितना पैसा रख सकते है?

सैलरी अकाउंट को सेविंग अकाउंट में बदलें?

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post