1949 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?

1949 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया (How Many Banks Were Nationalized In 1949) इसका संपष्ट उत्तर है 1 जनवरी 1949 में भारतीय सरकार द्वारा एकमात्र भारतीय रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था, और भारतीय संसद द्वारा पारित बिल के तहत भारतीय रिज़र्व बैंक को देश का नोट छापने और सभी व्यापारिक बैंकों के निगरानी करने का अधिकार दिया गया, परंतु राष्ट्रीयकरण से पहले भारतीय रिज़र्व बैंक देश में एक निजी संस्था के रूप में कार्य कर रहा था, यानि भारतीय रिज़र्व बैंक के इतिहास पर नज़र डाला जाए तो रिज़र्व बैंक की स्थापना ब्रिटिश शासन काल में ब्रिटिश द्वारा किया गया था तथा इस बैंक के स्थापना हेतु ब्रिटिश द्वारा बनाया गया संस्था "हिल्टन यंग आयोग" ने सिफारिश की थी, जो की वित्त पर रॉयल कमीशन था । आईयें भारतीय रिज़र्व बैंक से जुड़ी कुछ अन्य सवाल का जवाब जानने की कोशिश करते है-



1949 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?
1949 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?




1. भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना कब हुई?


भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के तहत 1 अप्रैल 1935 में किया गया था ।



2. 1 जनवरी 1949 को किस बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था?


स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भारत सरकार द्वारा 1 जनवरी 1949 को एकमात्र भारतीय रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था ।



3. भारतीय रिज़र्व बैंक का मुख्यालय कहाँ है?


प्रारंभ में भारतीय रिज़र्व बैंक को कोलकाता में स्थापित किया गया था, परंतु साल 1937 में आरबीआई का मुख्यालय स्थायी रूप से मुंबई में स्थानांतरित कर दिया गया ।


4. भारतीय रिज़र्व बैंक को स्थापित किसने किया?


ब्रिटिश द्वारा बनाया गया संस्था 'हिल्टन यंग आयोग' ने ब्रिटिश सरकार से भारत में एक केंद्रीय बैंक स्थापित करने का आग्रह किया था, जिसके बाद ब्रिटिश सरकार द्वारा भारत में रिज़र्व बैंक की स्थापना की गई ।



5. भारत का केंद्रीय बैंक कौन सा है?


भारत का केंद्रीय बैंक रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया है, देश का नोट छापने के साथ साथ देश में उपस्थित सभी प्रकार के बैंकों के कार्य पर रिज़र्व बैंक द्वारा ही नज़र रखा जाता है ।



6. आरबीआई में कितने सदस्य होते है?


आरबीआई में कुल छह सदस्य होते हैं एवं आरबीआई के गवर्नर की अगुवाई में इसकी बैठक होती है, अभी 2022 में शक्तिकांत दास आरबीआई के गवर्नर पद पर तैनात हैं ।



7. आरबीआई के गवर्नर की नियुक्ति कौन करता है? 


आरबीआई अधिनियम के अंतर्गत केन्द्र सरकार द्वारा आरबीआई गवर्नर पद की नियुक्ति किया जाता है, यानि आरबीआई गवर्नर की नियुक्ति अभी तक वित्त मंत्री की सलाह पर प्रधानमंत्री द्वारा किया जाता रहा है ।



8. शक्तिकांत दास कौन से नंबर के गवर्नर है?


शक्तिकांत दास 25वें नंबर के गवर्नर है, इन्होने 10 दिसंबर 2018 को भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर का पदभार संभाला थे ।



9. भारतीय रिज़र्व बैंक का पराना नाम क्या था?


भारतीय रिज़र्व बैंक का कोई भी पुराना नाम नही है । इस बैक को स्थापित और नियंत्रण अंग्रेज़ी हुकूमत के हाथ में था, उस वक्त भी यह रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के ही नाम से जाना जाता था ।



10. भारत का राष्ट्रीय बैंक कौन सा हैं?


भारतीय रिज़र्व बैंक भारत का राष्ट्रीय बैंक है, इस बैंक को को केंद्रीय बैंक का दर्जा प्राप्त है, इसलिए भारतीय रिज़र्व बैंक को देश का सर्वोच्च बैंक भी कहा जाता है ।



ये भी जानिए:-


केंद्रीय बैंक के कार्य क्या है?

व्यापारिक बैंक के कार्य क्या है?

स्टेट बैंक का पुराना नाम क्या है?

बैंकों का राष्ट्रीयकरण क्या होता है?

भारत में बैंकों के राष्ट्रीयकरण के कारण?

भारत में बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब किया गया?

1969 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?

1980 में कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया?

हरित क्रांति के बाद कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ?

Post a Comment

Previous Post Next Post