नाबार्ड की स्थापना किस अधिनियम के तहत हुई है?

नाबार्ड की स्थापना किस अधिनियम के तहत हुई है (NABARD Ki Sthapna Kis Adhiniyam Ke Tahat Hui Hai) इसका उत्तर जानने आये हैं तो आपका स्वागत है । दोस्तों जैसा की आपको पता होगा, नाबार्ड जो की राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक के नाम से प्रसिद्ध है, और यह संस्था देश के कृषि क्षेत्रों, लघु उद्योगों, कुटीर एवं ग्रामोद्योगों, हस्तशिल्प, ग्रामीण शिल्प और ग्रामीण क्षेत्रों एवं अन्य प्रकार के आर्थिक गतिविधियों के संवर्धन और विकास हेतु ऋण देने और उनका विनियमन करने का कार्य करता है । अब यदि नाबार्ड की स्थापना को लेकर बात किया जाए तो, नाबार्ड की स्थापना भारतीय संसद द्वारा पारित राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक अधिनियम, 1981 के तहत 12 जुलाई 1982 को हुई है । अंतत: नाबार्ड से संबंधित अन्य जानकारी के लिए संपूर्ण आर्टिकल को जरूर पढ़े । 




नाबार्ड की स्थापना किस अधिनियम के तहत हुई है?
नाबार्ड की स्थापना किस अधिनियम के तहत हुई है?





1. नाबार्ड के संस्थापक कौन है?


नाबार्ड के संस्थापक भारत सरकार है ।



2. राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना किस अधिनियम के तहत हुई है?


राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना नाबार्ड एक्ट, 1981 के तहत हुई है ।



3. राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना किस समिति के सिफारिश पर हुई थी ।


राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना श्री बी. शिवरामन की अध्यक्षता वाली समिति के सिफारिश पर हुई थी ।



4. राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना किस पंचवर्षीय योजना में हुई थी?


राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना छठवीं पंचवर्षीय योजना में हुई थी ।



5. राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के प्रथम अध्यक्ष कौन थे?


राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के प्रथम अध्यक्ष श्री एम. रामकृष्णय्या थे, जिन्होंने 1982 से 1984 के बीच सेवा प्रदान किया था ।




ये भी जानिए:-


नाबार्ड का फुलफॉर्म क्या है?

नाबार्ड का मुख्यालय कहां है?

नाबार्ड के प्रमुख कार्य क्या है?

नाबार्ड की स्थापना किसने किया?

नाबार्ड कार्यालय की संख्या कितनी है?

नाबार्ड की प्रथम महिला अध्यक्ष कौन थी?

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post