VPF फुल फ़ॉर्म इन हिंदी और VPF क्या है पूरी जानकारी

VPF फुल फ़ॉर्म इन हिंदी और VPF क्या होता है पूरी जानकारी के विषय में आईये विस्तार से बातें करते है । जी हां दोस्तो शायद आप अच्छी तरह जानते होगें सरकारी या प्राइवेट संस्थाओ में नौकरी कर रहे लोगों के भविष्य निधि (PF) योजना के तहत कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खाता होते है जिसमे संस्था द्वारा कर्मचारी के प्रत्येक महीने की कुल सैलरी में से भविष्य निधि के लिए क्रमश 12% राशि काटकर कर्मचारी के EPF खाते में डाल दिया जाता है जिसका लाभ कर्मचारियो को रिटायर्मेंट, पेंशन और अन्य प्रकार से फायदे मिलते है । कर्मचारी या अधिकांश लोग कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खाता को PF खाता ही कहते है लेकिन यहां पर याद रखने योग्य बाते है कर्मचारियो की PF खाता भी कई तरह के होते है जिसमें VPF खाता भी शामिल है । चलिए बिना देर किए जानते है वीपीएफ का फुल फ़ॉर्म क्या है? वीपीएफ क्या है? वीपीएफ खाता किसके लिए होता है? और वीपीएफ की विषेशताए क्या है?



VPF फुल फ़ॉर्म इन हिंदी और VPF क्या है पूरी जानकारी
VPF फुल फ़ॉर्म इन हिंदी और VPF क्या है पूरी जानकारी



VPF का फुल फ़ॉर्म क्या होता है?


VPF Full Form In English "Voluntary President Fund" और वीपीएफ फुल फ़ॉर्म इन हिंदी "स्वैच्छिक भविष्य निधि" होता है इसे स्वैच्छिक भविष्य निधि योजना के नाम से भी जाना जाता है ।



वीपीएफ योजना क्या है? - What Is VPF Scheme In Hindi 


VPF Scheme Kya Hai इसे सरल शब्दो में समझने की कोशिश किया जाए तो शायद आप अवश्य ही जानते होगें कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) कर्मचारियो की बैंक जिसमें नियमानुसार कंपनी की जिम्मेदारी होती है प्रत्येक कार्य कर रहे कर्मचारीयो की EPFO में EPF अकाउंट ओपेन करवाना एवं कर्मचारी की कुल सैलरी से 12% काटकर उसके EPF खाता में डालना जिसके लिए EPFO के नियमानुसार EPF खाताधारी को रिटायर्मेंट से पहले, रिटायर्मेंट के तुरंत बाद और पेंशन जैसी सुविधाए मिलते है । यहां पर याद रखने वाली बात है जब कंपनी द्वारा किसी भी कर्मचारी के कुल सैलरी में से 12% उसके भविष्य निधि (EPF) खाते के लिए पैसे कांटे जाते है तो यह नियम EPFO की ओर से सरकारी या प्राइवेट कंपनी में कार्य कर रहे सभी कर्मचारीयो पर लागू होता है । लेकिन कुछ ऐसे प्राइवेट कर्मचारी होते है जो भविष्य के लिए EPFO में अपनी सैलरी से 12% से ज्यादा धन जमा करना चाहते है तो ऐसे प्राइवेट कर्मचारियो के लिए प्राइवेट कंपनीया स्वैच्छिक भविष्य निधि (VPF) खाता ओपेन कराने के लिए बाध्य होता है चलिए आगे जानते है प्राइवेट कर्मचारी अपने EPF खाता को स्वैच्छिक भविष्य निधि (VPF) खाता में कैसे तब्दील करा सकता है ।



स्वैच्छिक भविष्य निधि (VPF) योजना में निवेश कैसे करें?


VPF (स्वैच्छिक भविष्य निधि) योजना से जुड़ने और फायदा लेने के लिए कर्मचारी को अपनी कंपनी के HR से संपर्क करना होता एवं अपनी इच्छा जाहिर करके बताना पड़ता है कि वह अपना भविष्य निधि (PF) योगदान बढ़ाना चाहता है । यदि कंपनी VPF की सुविधा उपलब्ध कराती है तो HR विभाग कंपनी की पॉलिसी के मुताबिक कदम उठाता है । आमतौर पर VPF खाता को कर्मचारी के मौजूदा EPF खाता से अटैच कर दिया जाता है उसके बाद कर्मचारी VPF में योगदान दे सकता है । लेकिन याद रखने वाली बात है EPF से VPF प्रक्रिया प्रत्येक वित्त वर्ष शुरू होने वक्त किया जाता है । 



स्वैच्छिक भविष्य निधि (VPF) की विशेषताए


VPF केवल प्राइवेट कर्मचारियों के लिए होता है सरकारी क्षेत्र के कर्मचारी इस योजना में निवेश नहीं कर सकते हैं।


VPF योजना के तहत VPF खाता में प्राइवेट कर्मचारी अपने वेतन का एक निश्चित भाग जमा कर सकता है ।


कर्मचारी को VPF खाता खोलते वक्त नॉमिनी की सुविधा भी मिलती है ।


कर्मचारियो को VPF खाते पर भी EPF जितना ही ब्याज दिया जाता है ।


80C के तहत VPF खाते में किया गया निवेश भी EEE कैटेगरी में आता है इसलिए VPF में निवेश पर मिलने वाला ब्याज और मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने पर मिलने वाला पैसा पूरी तरह टैक्स फ्री है ।


VPF खाते से रकम की आंशिक निकासी के लिए खाताधारक को पांच साल तक नौकरी करना अनिवार्य है वरणा टैक्स कटता है ।


VPF की पूरी रकम केवल रिटायरमेंट पर ही निकाला जा सकती है ।


VPF खाते की जानकारी EPFO की वेबसाइट पर देखी जा सकती है साथ ही पैसों की निकासी के लिए ऑनलाइन क्लेम किया जा सकता है ।


नौकरी बदलने के स्थिति में VPF फंड को EPF की तरह आसानी से ट्रांसफर किया जा सकता है ।


रिटायर्मेंट पर एक मोटी रकम प्राप्ति के लिए स्वैच्छिक भविष्य निधि (VPF) योजना प्राइवेट कर्मचारियो के लिए बेहतरीन विकल्प है ।



ये भी पढें - GPF फुल फ़ॉर्म और जीपीएफ क्या होता है पूरी जानकारी


ये भी पढे - PPF फुल फ़ॉर्म और पीपीएफ क्या होता है पूरी जानकारी

Post a Comment

Previous Post Next Post