पीएफ नंबर और यूएएन नंबर में क्या अंतर है? - Difference Between PF Number And UAN Number

PF नंबर और UAN नंबर में क्या अंतर है? इसको लेकर अधिकतर कर्मचारी भ्रमित होतें है । जी हां दोस्तों जैसा की हमलोग भलीभांति जानतें है कंपनी में काम करें रहे सभी कर्मचारियो की भविष्य निधि (EPF) खाता होता है जिसे अधिकांश लोग पीएफ खाता भी कहतें है । पीएफ नंबर और यूएएन नंबर की बात किया जाए तो भविष्य निधि (PF) खातें का विवरण और कंट्रोल करने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है शायद ये बात आप अवश्य जानतें होगें अगर नही जानतें तो सबसे पहलें आप पीएफ नंबर क्या होता है और यूएएन नंबर क्या होता है इन दोनों के बारें में जरुर पढें तभी आप इनके बीच क्या अंतर है समझ पाएंगे । क्योंकि मैं इस लेख में केवल पीएफ नंबर और यूएएन नंबर में अंतर पर चर्चा करने वाले है । तो चलिए देर किस बात की सिधे मुद्दे पर बात करतें है PF Number Aur UAN Number Me Antar Kya Hai?



पीएफ नंबर और यूएएन नंबर में क्या अंतर है?
पीएफ नंबर और यूएएन नंबर में क्या अंतर है? 




पीएफ नंबर और यूएएन नंबर में क्या अंतर है? - What Is Difference Between PF Number And UAN Number


PF Number का फुल फ़ॉर्म "प्रोविडेंट फण्ड नंबर" जिसें भविष्य निधि खाता नंबर भी कहा जा सकता है एवं UAN Number का फुल फ़ॉर्म "यूनिवर्सल अकाउंट नंबर" कहा जाता है ।


कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) अकाउंट जिसे PF अकाउंट कहा जाता है ये 7 डिजीट का होता है जबकि UAN नंबर 12 डिजीट का होता है ।


कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) अकाउंट नंबर कंपनी के द्वारा जेनरेट किया जाता है जबकि UAN नंबर कर्मचारी खूद आनलाईन जेनरेट कर सकता है ।


एक कंपनी से दूसरें कंपनी में नौकरी बदलने के दौरान पीएफ खाता नंबर बदल जाता है जबकि यूएएन नंबर बदला नही जा सकता है ।


एक कर्मचारी अपना अनेक पीएफ खाता ओपेन करा सकता है लेकिन यूएएन अकाउंट नंबर एक ही बार ओपेन यानि जेनरेट किया जाता है एवं एक यूएएन अकाउंट नंबर से कई पीएफ अकाउंट जोड़ा जा सकता है ।


पीएफ नंबर के द्वारा कर्मचारी अपने पीएफ खातें का केवाईसी अपडेट नही कर सकता है जबकि यूएएन नंबर की सहायता से जब चाहें तब पीएफ खातें का केवाईसी अपडेट किया जा सकता है ।


UAN अकाउंट नंबर को आधार नंबर से लिंक करना होता है जबकि पीएफ अकाउंट नंबर को लिंक करने की जरुरत नही होती है ।


यूएएन नंबर मौजूद होने पर पीएफ अकाउंट नंबर देखा जा सकता है जबकि पीएफ नंबर से यूएएन नंबर देखा नही जा सकता है ।


UAN नंबर की सहायता से हस्ताक्षर के बिना पीएफ अकाउंट से पैसे निकालें जा सकते है Employer (नियोक्ता) की जरूरत नही पड़ती है जबकि पीएफ नंबर के जरिए निकासी पर नियोक्ता के हस्ताक्षर की आवश्यकता पड़ जाता है ।


कर्मचारी खूद पीएफ नंबर के उपयोग से भविष्य निधि खाता का पैसा ट्रांसफर या निकाल नही सकता जबकि यूएएन नंबर के उपयोग से पीएफ खाते की बैलेंस चेक, पैसे ट्रांसफर एवं निकासी किया जा सकता है ।


ये भी पढें:-


GPF क्या होता है?

VPF क्या होता है?

NPS क्या होता है?

EDLI क्या होता है?

Post a Comment

Previous Post Next Post