बैंक ऑफ बड़ौदा की जानकारी Bank Of Baroda Ki Jankari हिंदी में जानने आये हैं तो आपका बहुत-बहुत स्वागत है । जी हाँ, बैंक ऑफ बड़ौदा के बारे में जानकारी प्राप्त करना अत्यंत आवश्यक है । क्योंकि बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं पूरे देश भर में देखने को मिल रही है । आपने भी बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं देखी होगी या बैंक ऑफ बड़ौदा के बारे में किसी से सुना होगा । यदि आप बड़ौदा बैंक की जानकारी प्राप्त करने के लिए आये हैं तो ये आर्टिकल आपके लिए बेहद ही महत्वपूर्ण है । इस आर्टिकल में हम आपको विस्तारपूर्वक बैंक ऑफ बड़ौदा की पूरी जानकारी Bank Of Baroda Ki Puri Jankari बताने जा रहा हूँ ।



बैंक ऑफ बड़ौदा की जानकारी Bank Of Baroda Ki Jankari
बैंक ऑफ बड़ौदा की जानकारी Bank Of Baroda Ki Jankari




बैंक ऑफ बड़ौदा की जानकारी Bank Of Baroda Ki Jankari


बैंक ऑफ बड़ौदा भारत का पुराना और सरकारी क्षेत्र का प्रमुख कमर्शियल बैंक है । इस बैंक की स्थापना 20 जुलाई 1908 में हुई थी । बड़ौदा बैंक अपने ग्राहकों को कई प्रकार के खाता खोलने की सुविधा, चेकबुक, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, लोन, मोबाइल बैंकिंग, नेटबैकिंग तमाम प्रकार के बैंकिंग सेवाएँ प्रदान करता है । वर्तमान में बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं देश के सभी शहरों के अलावे ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित है, और अपनी बेहतरीन बैंकिंग सेवाओं के बदौलत देश का प्रसिद्ध बैंक बन चुकी है । 



बैंक ऑफ बड़ौदा का इतिहास Bank Of Baroda Ka Itihas


बैंक ऑफ बड़ौदा की स्थापना बड़ौदा के महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ द्वारा 20 जुलाई 1908 में बड़ौदा राज्य, गुजरात में किया गया था । जबकी 19 जुलाई 1969 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी द्वारा राष्ट्रीयकरण किया गया । कुछ वर्ष पहले 01 अप्रैल 2019 को बड़ौदा बैंक में देना बैंक और विजया बैंक का विलय किया गया है । जिसके बाद बैंक ऑफ बड़ौदा और भी ज्यादा शाखाओ वाला बैंक बन चुकी है । और अपनी बेहतरीन बैंकिंग सेवाओ के बदौलत अपना विस्तार बहुत तेज़ी बढ़ाते जा रही है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा डिटेल्स इन हिंदी Bank Of Baroda Details In Hindi


प्रकार - सार्वजनिक कमर्शियल बैंक


संस्थापक - महाराजा सयाजीराव गायकवाड़


स्थापना - 20 जुलाई 1908


राष्ट्रीयकरण - 19 जुलाई 1968


मुख्यालय - वडोदरा, गुजरात


शाखाएं - 8,200 से अधिक


एटीएम - 10,000 से अधिक


ग्राहक - 150 मिलियन से अधिक


संपत्ति - 15.26 लाख करोड़ से अधिक



FAQ


बैंक ऑफ बड़ौदा की स्थापना कब हुई?


बैंक ऑफ बड़ौदा की स्थापना 20 जुलाई 1908 में हुई है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा के संस्थापक कौन है?


बैंक ऑफ बड़ौदा के संस्थापक महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा का पुराना नाम क्या है?


बैंक ऑफ बड़ौदा का पुराना नाम बड़ौदा बैंक है ।



बड़ौदा बैंक का दूसरा नाम क्या है?


बड़ौदा बैंक का दूसरा नाम BOB है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा का मालिक कौन है?


बैंक ऑफ बड़ौदा का मालिक भारत सरकार के वित्त मंत्रालय है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा किस प्रकार का बैंक है?


बैंक ऑफ बड़ौदा सरकारी क्षेत्र का कमर्शियल बैंक है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा किस देश का बैंक है?


बैंक ऑफ बड़ौदा स्वदेशी भारतीय बैंक है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा क्या गवर्नमेंट बैंक है?


जी हां, बैंक ऑफ बड़ौदा गवर्नमेंट बैंक है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा का मुख्यालय कहाँ है?


बैंक ऑफ बड़ौदा का मुख्यालय वडोदरा, गुजरात में है ।



भारत में बैंक ऑफ बड़ौदा की कितनी शाखाएं हैं?


पुरे भारत में बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं 8,200 से अधिक है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा में किस बैंक का विलय हुआ है?


बैंक ऑफ बड़ौदा में देना बैंक और विजया बैंक का विलय हुआ है ।



बैंक ऑफ बड़ौदा में खाता खोलने के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?


बैंक ऑफ बड़ौदा में खाता खोलने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, बिजली बिल और पासपोर्ट साईज नवीनतम फोटो चाहिए ।



बैंक ऑफ बड़ौदा में खाता कितने से खुलता है?


बैंक ऑफ बड़ौदा में सेविंग अकाउंट 500 और 1000 से खुलता है । इसके अलावे जीरो रूपए में भी खुलवाये जा सकते हैं ।



बैंक ऑफ बड़ौदा कस्टमर केयर नंबर क्या है?


बैंक ऑफ बड़ौदा कस्टमर केयर नंबर 18005700 है ।



ये भी जानिए:-


फिनो बैंक की जानकारी

सेंट्रल बैंक की जानकारी

बंधन बैंक की जानकारी

केनरा बैंक की जानकारी

ग्रामीण बैंक की जानकारी

यूनियन बैंक की जानकारी

इंडसइंड बैंक की जानकारी

एक्सिस बैंक की जानकारी

Post a Comment