निजी बैंक की स्थापना कब हुई Niji Bank Ki Sthapna Kab Hui बात किया जाए तो, हमारे देश भारत में बैंकिंग की शुरुआत ब्रिटिश शासन काल के दौरान सभी बैंकों की स्थापना निजी बैंक के रूप में ही हुआ था । जबकि आजादी के उपरांत कुछ निजी बैंकों का सरकारीकरण भी किया गया । फिर भी आज के वर्तमान समय में देखा जाए तो, सरकारी बैंकों के अपेक्षा निजी बैंकों की संख्या अधिक है । ऐसे में हमलोगों को जानना आवश्यक है कि, वर्तमान भारत में कुल कितने निजी बैंक है और सभी निजी बैंकों की स्थापना कब हुई थी । यदि आपको इसकी जानकारी नहीं है, तो आपको इस लेख में निजी बैंक के बारें में पूरी जानकारी मिल जाएगी । 



निजी बैंक की स्थापना कब हुई
निजी बैंक की स्थापना कब हुई




निजी बैंक क्या है What Is Private Banks In hindi


निजी बैंक या प्राइवेट क्षेत्र के बैंक उन सभी बैंकों को कहा जाता है, जिसका संचालन निजी रूप से किसी व्यक्ति या संस्था द्वारा किया जाता है । अर्थात निजी बैंक का स्वामित्व किसी व्यक्ति या संस्था के पास होता है । दूसरे शब्दों में कहा जाए तो, निजी क्षेत्र के वे बैंक होते हैं, जहां निजी व्यक्तियों या निजी कंपनियों के पास बैंक की हिस्सेदारी का एक बड़ा हिस्सा होता है ।



निजी बैंक की स्थापना कब हुई When Was The Private Bank Established In India


भारत में निजी बैंक की स्थापना और उसका मुख्यालय निम्नलिखित प्रकार है:-


1. एचडीएफसी बैंक - 1994 - मुंबई, महाराष्ट्र


2. ऐक्सिस बैंक - 1993 - मुंबई, महाराष्ट्र


3. बंधन बैंक - 2015 - पश्चिम बंगाल


4. सीएसबी बैंक - 1920 - त्रिशूर, केरल


5. यस बैंक - 2004 - मुंबई, महाराष्ट्र


6. सिटी यूनियन बैंक - 1904 - तमिलनाडु


7. डीसीबी बैंक - 1930 - मुंबई, महाराष्ट्र


8. धनलक्ष्मी बैंक - 1927 - त्रिशूर शहर, केरल


9. आईसीआईसीआई बैंक - 1994 - मुंबई, महाराष्ट्र


10. फेडरल बैंक - 1931 - अलुवा, कोच्चि


11. आईडीबीआई बैंक - 1964 - मुंबई, महाराष्ट्र


12. इंडसइंड बैंक - 1994 - पुणे, महाराष्ट्र


13. जम्मू और कश्मीर बैंक - 1938 - श्रीनगर


14. कर्नाटक बैंक - 1924 - कर्नाटक


15. करूर वैश्य बैंक - 1996 - तमिल नाडु


16. कोटक महिंद्रा बैंक - 2003 - मुंबई, महाराष्ट्र


17. नैनीताल बैंक - 1922 - उत्तराखंड


18. आरबीएल बैंक - 1943 - मुंबई, महाराष्ट्र


19. साउथ इंडियन बैंक - 1929 - त्रिशूर, केरल


20. तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक - 1921 - तमिलनाडु


21. आईडीएफसी फर्स्ट बैंक - 2015 - मुंबई, महाराष्ट्र



FAQ


भारत का पहला निजी बैंक कौन सा है?


वर्तमान निजी बैंकों के अनुसार भारत का पहला निजी बैंक सिटी यूनियन बैंक है, जिसकी स्थापना 1904 में हुई है ।



वर्तमान में भारत में कितने निजी बैंक है?


2023 के अनुसार वर्तमान भारत में 21 निजी बैंक है ।



भारत का निजी सबसे बड़ा बैंक कौन सा है?


भारत का निजी सबसे बड़ा बैंक एचडीएफसी बैंक है ।



भारत में दूसरा सबसे बड़ा निजी बैंक कौन सा है?


भारत में दूसरा सबसे बड़ा निजी बैंक आईसीआईसीआई बैंक है ।



निजी बैंकों की स्थापना के उद्देश्य बताइए


निजी बैंकों की स्थापना के उद्देश्य लोगों के धन को जमा स्वीकार करना और जरूरत पड़ने पर ऋण उपलब्ध कराने के अलवा विभिन्न प्रकार के बैंकिंग सुविधाए देना है ।



ये भी जानिए:-


विश्व का सबसे बड़ा बैंक कौन सा है?

विश्व का सबसे पहला बैंक कौन सा है?

विश्व का सबसे पुराना बैंक कौन सा है?

दुनिया का सबसे अमीर बैंक कौन सा है?

भारत का सबसे बड़ा बैंक कौन सा है?

भारत का सबसे छोटा बैंक कौन सा है?

भारत का सबसे पहला बैंक कौन सा है?

भारत का सबसे पुराना बैंक कौन सा है?

Post a Comment