बंधन बैंक का इतिहास Bandhan bank history in hindi के बारे में प्रत्येक भारतीय को जरूर पता होनी चाहिए । क्योंकि बंधन बैंक भारत का एक ऐसा प्राइवेट क्षेत्र का बैंक है, जिसका इतिहास काफ़ी रोचक है । जी हाँ, यदि आप बैंकिंग परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं या बंधन बैंक में निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो ये आर्टिकल आपके लिए बेहद ही महत्वपूर्ण है । इस आर्टिकल में बंधन बैंक का इतिहास और वर्तमान की पूरी जानकारी हिंदी में जानने को मिलेगा । तो चलिए देर किये बिना जल्दी से जानते है बंधन बैंक का इतिहास क्या है Bandhan bank ka itihas kya Hai.



बंधन बैंक का इतिहास Bandhan bank history in hindi
बंधन बैंक का इतिहास Bandhan bank history in hindi




बंधन बैंक का इतिहास Bandhan Bank History In Hindi


बंधन बैंक की स्थापना साल 2001 में माइक्रो फाइनेंस कंपनी के तौर पर कोलकाता से 60 किमी दूर एक छोटे से गाँव बगनान में हुई थी । बंधन की शुरुआत महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से चंद्रशेखर घोष द्वारा किया गया था । जबकि साल 2014 में भारतीय रिज़र्व बैंक से पुर्ण बैंकिंग का लाइसेंस मिलने के बाद 23 अगस्त 2015 में तत्कालीन वित्तमंत्री अरुण जेटली द्वारा इस बैंक का उद्घाटन किया गया था । और अभी यह बैंक देश के प्रतिष्ठित बैंकों में शामिल हो चुका है । क्योंकि वर्तमान समय में बंधन बैंक द्वारा बेहतरीन बैंकिंग सेवाएँ प्रदान किये जा रहे हैं ।



बंधन बैंक इतिहास विकिपीडिया Bandhan bank history wikipedia


प्रकार - जनता


उद्योग - वित्तीय सेवाए


शुरुआत - 2001


स्थापना - 23 अगस्त 2015


संस्थापक - चंद्रशेखर घोष


मुख्यालय - कोलकाता, पश्चिम बंगाल


शाखाए - 1,500 से अधिक


कर्मचारी - 74,000 से अधिक


संपत्ति - 1.56 लाख करोड़ से अधिक


उत्पाद - बैंकिंग, बीमा, निवेश प्रबंधन, ऋण, म्यूचुअल फंड


वेबसाइट - www.bandhanbank.com



बंधन बैंक के इतिहास से जुड़ी रोचक तथ्यों


1. बंधन बैंक का हेडक्वार्टर कोलकाता, पश्चिम बंगाल में स्थित है ।


2. बंधन बैंक के संस्थापक चंद्र शेखर घोष के पिता एक मिठाई की दुकान चलाते थे ।


3. बैंक की शुरूआत 75 लाख उपभोक्ताओं से हुई थी ।


4. बैंक का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों का विकास और उत्थान करना है, इसलिए इसकी अत्यधिक शाखाएं ग्रामीण क्षेत्रों में देखने को मिलती है ।


5. बंधन बैंक देश की पहली माइक्रोफाइनेंस इंस्टीट्यूशन थी, जिसे यूनिवर्सल बैंक बनने का गौरव हासिल हुआ ।



FAQ


बंधन बैंक की शुरुआत कब हुई?


बंधन बैंक की शुरुआत 2001 में माइक्रो फाइनेंस कंपनी के तौर पर कोलकाता से 60 किमी दूर एक छोटे से गाँव बगनान में हुई थी ।



बंधन बैंक का मुख्यालय कहाँ है?


बंधन बैंक का मुख्यालय कोलकाता, पश्चिम बंगाल में है और इसकी शाखाएं देश के कोने-कोने- में स्थित है ।



बंधन बैंक किस तरह का बैंक है?


बंधन बैंक भारत की एक बैंकिंग और फाइनेंशियल सर्विस कंपनी है जिसकी शुरुआत चंद्र शेखर घोष द्वारा की गई है।



बंधन बैंक को लाइसेंस कब मिला?


बंधन बैंक को साल 2014 में देश के सर्वोच्च बैंक आरबीआई द्वारा लाईसेंस मिला था ।



बंधन बैंक की शुरुआत कैसे हुई?


इतिहास बंधन की शुरुआत एक गैर-लाभकारी इकाई के रूप में वित्तीय समावेशन और स्थायी आजीविका सृजन के माध्यम से महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से की गई थी ।



बंधन बैंक का पुराना नाम क्या है?


बंधन बैंक का पुराना नाम “बंधन फाइनेंशियल सर्विसेज” है, जिसे 23 अगस्त 2015 में बदलकर बंधन बैंक कर दिया गया ।



बंधन बैंक की स्थापना सबसे पहले कहां हुई थी?


बंधन बैंक की शुरुआत कोलकाता से 60 किमी दूर एक छोटे से गाँव बगनान में एक गैर-लाभकारी माइक्रोफाइनेंस कंपनी के रूप में हुई थी ।



बंधन बैंक का क्या काम है?


बंधन बैंक बैंकिंग, बीमा, निवेश प्रबंधन, ऋण, म्यूचुअल फंड आदि सेवाएं प्रदान करता है ।



ये भी जानिए:-


एयू बैंक की जानकारी

फिनो बैंक की जानकारी

बंधन बैंक की जानकारी

इंडसइंड बैंक की जानकारी

एक्सिस बैंक की जानकारी

फेडरल बैंक किस देश का है

उत्कर्ष फाइनेंस बैंक क्या है?

Post a Comment