RBI क्या है? RBI फुल फाॅर्म और आरबीआई की पूरी जानकारी

RBI (आरबीआई) क्या है? RBI फुल फॉर्म और आरबीआई के कार्य के बारे में बहुत लोगो को पता नही होता यदि आप आरबीआई के बारे में जानकारी चाहते है तो आपका स्वागत है! दोस्तो सबसे पहले बताना चाहुंगा सभी देश का अपना एक प्रमुख केन्द्रीय बैंक होता है! आरबीआई भी एक बैंक है! ब्रिटिश काल में सर्वप्रथम आरबीआई की उत्पत्ति निजी बैंक के रूप में हुआ था लेकिन स्वतंत्र भारत में भारत सरकार द्वारा सबसे पहले आरबीआई को राष्ट्रीयकृत और फिर केन्द्रीय बैंक घोषित कर दिया गया! अब भारतीय सरकार का दिशा निर्देश पर कार्य करता है! आईये आरबीआई के वर्तमान और इतिहास के बारे में विस्तार से बाते करते है और जानते है आरबीआई क्या है? आरबीआई का फुल फाॅर्म और इस बैंक से जुड़ी अन्य चीज़े जो की लोग जानने की कोशिश करते है!


RBI क्या है? RBI फुल फाॅर्म और आरबीआई की पूरी जानकारी
आरबीआई क्या है?



ये भी पढे- भारत का सबसे बड़ा बैंक कौन सा है?

ये भी पढे- सरकारी और प्राइवेट बैंक नाम लिस्ट




RBI Full Form क्या है?


RBI फुल फाॅर्म इंन इंग्लिश- रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया

RBI फुल फाॅर्म इंन हिंदी- भारतीय रिजर्व बैंक होता है!



आरबीआई क्या है?


जैसा की आप समझ गये होंगे प्रत्येक देश का अपना एक केन्द्रीय बैंक होता है! आरबीआई यानि की भारतीय रिजर्व बैंक भारत का केन्द्रीय बैंक है! आरबीआई भारत में मौजूद सभी बैंक का बाॅस भी है क्योंकि किसी भी बैंक का लाइसेंस आरबीआई द्वारा ही दिया और रद्द किया जाता जाता है एवं किसी भी बैंक को पैसे की जरूरत परने पर कर्ज भी देता है!



भारतीय रिजर्व बैंक का कार्य


भारतीय रिजर्व बैंक भारत सरकार का स्वामित्व वाला एक ऐसा सर्वोच्च बैंक है जो सभी भारतीय बैंको का संचालन और भारतीय अर्थव्यवस्था को बनाये रखने के कार्य के साथ साथ भारतीय मुद्रा को छापने का कार्य करता है! भारतीय सभी बैंको के लिए ऋण उपलब्ध कराना, विदेशी मुद्रा भंडार का संरक्षण करना, विश्व बैंक आईएमएफ में भारतीय सरकार का प्रतिनिधित्व ये सारे कार्य भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा की किये जाते है!



भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना


रिज़र्व बैंक ऑफ़ इण्डिया ऐक्ट 1934 के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना 1 अप्रैल 1935 को हुई थी! स्थापना के दौरान बैंक के संस्थापकों में डॉ॰ भीमराव अम्बेडकर भी शामिल थे! भारतीय रिज़र्व बैंक को बनाने में अर्थशास्त्री बाबा भीमराव अम्बेडकर ने अहम भूमिका निभाई हैं उन्होंने अपने दिशा-निर्देश प्रदान किये थे जिसके आधार पर ही भारतीय रिजर्व बैंक बनाया गया था।



भारतीय रिजर्व बैंक का राष्ट्रीयकरण


शायद आप जान गये होंगे भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना 1 अप्रैल 1935 में की गई थी एवं भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीयकरण कि बात किया जाए तो स्वतंत्रता के बाद 1 जनवरी 1949 में भारतीय रिजर्व बैंक को राष्ट्रीयकृत घोषित किया गया था! भारतीय रिजर्व बैंक भारत का सबसे पहला राष्ट्रीयकृत बैंक है!



भारतीय रिजर्व बैंक का मुख्यालय


सर्वप्रथम भारतीय रिजर्व बैंक का मुख्यालय कोलकाता में स्थापित किया गया था लेकिन 1937 में स्थानांतरित करके मुंबई में कर दिया गया अभी RBI का मुख्यालय मुबंई मे स्थित है!



भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर कौन है 2021


वर्तमान समय में भारतीय रिजर्व बैंक का गवर्नर शशिकांत दास है जिनको 11 दिसंबर 2018 को पदभार मिला और अभी कार्यरत है!



RBI के बारे में कुछ अन्य जानकारी


अक्सर परीक्षाओ में भारतीय रिजर्व बैंक से संबंधित सवाल पुंछे जाते है! जिसके बारे में विद्यार्थियो के साथ-साथ सभी भारतीय नागरिक को जानकारी रखनी चाहिए! आईये आरबीआई से जुड़ी कुछ अन्य चीज़े जानते है!


भारतीय रिजर्व बैंक का पुराना नाम क्या है?


भारतीय रिजर्व बैंक का कोई भी पुराना नाम नही है। अंग्रेजो के शासनकाल में इस बैंक की स्थापना यही नाम से हुआ था और आज भी इस बैंक का नाम RBI (भारतीय रिजर्व बैंक) ही है!


भारतीय रिजर्व बैंक के प्रतीक चिन्ह पर कौन सा पशु अंकित है?


भारतीय रिजर्व बैंक के प्रतीक चिन्ह पर ताड़ का पेड़ और बाघ है अंकित है! यह चिन्ह औपनिवेशिक अतीत की निशानी है और इसे ईस्ट इंडिया कंपनी के प्रतीक चिन्ह से लिया गया है!


भारत का राष्ट्रीयकृत केन्द्रीय बैंक कौन है?


भारतीय रिजर्व बैंक जो की RBI के नाम से प्रसिद्ध है भारत का राष्ट्रीयकृत केन्द्रीय बैंक है! इस बैंक पर सरकार का नियंत्रण है! RBI फुल फाॅर्म इंन इंग्लिश "रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया" है जिसे हिंदी में "भारतीय रिजर्व बैंक" के नाम से भी जाना जाता है!


भारत का पहला राष्ट्रीयकृत बैंक कौन है?


भारत का पहला राष्ट्रीयकृत बैंक भारतीय रिज़र्व बैंक है जिसकी स्थापना सन 1 अप्रैल 1935 में हुआ और सबसे पहले भारतीय रिजर्व बैंक को सन 1 जनवरी 1949 में राष्ट्रीयकरण किया गया था!



Interesting Facts About RBI In Hindi


  • भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सिर्फ Currency Note ही बनाए जाते है और सिक्कों को भारत सरकार द्वारा बनाया जाता है।


  • भारत में वित्तीय वर्ष 1 अप्रैल से 31 मार्च होता है और आरबीआई का वित्तीय वर्ष 1 जुलाई से 30 जून होता है।


  • RBI के Rule में यह शामिल है की अगर 1 रुपए से 20 रुपए तक का नोट 50% से कम फटा है तो बैंक द्वारा आपको पूरे पैसे दिए जाएँगे। लेकिन 50% से ज्यादा फटा होने पर बैंक से आपको कुछ नहीं मिलेगा।


  • RBI द्वारा सन 1938 में 5,000 और 10,000 भी छापे गए थे इसके बाद वर्ष 1954 और 1978 में भी इन नोटों को छापा गया था।


  • भारतीय रिजर्व बैंक 1947 तक म्यांमार और 1948 तक पाकिस्तान का भी केन्द्रीय बैंक के रूप में कार्य चुका है।


  • भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह भी भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रह चुके है।


  • RBI के इतिहास में के.जी अंबेगांवकर और ओसबोर्न ओरकल स्मिथ दो ऐसे गवर्नर रह चुके है जिन्हें कभी नोटों पर सिग्नेचर करने का मौका नहीं मिला!

Post a Comment

Previous Post Next Post