आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल कितने वर्षो की होती है?

आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल कितने वर्षों की होती है (RBI Governor Ka Karyakal Kitne Varshon Ki Hoti Hai) इसका संपष्ट उत्तर है, आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल तीन वर्षों की होती है, परंतु आरबीआई अधिनियम, 1934 के तहत भारत सरकार चाहें तो आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल पुरी हो जाने के उपरांत अवधि को आगे तीन वर्षों तक बढ़ा सकती है । वर्तमान समय में आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास है, इनको इस पद का कार्यभार 12 दिसंबर 2018 को मिला था, और इनकी कार्यकाल 12 दिसंबर 2021 को पुरी हो चुकी थी, परंतु आरबीआई अधिनियम, 1934 के तहत माननीय मोदी सरकार ने शक्तिकांत दास को फिर से एक बार 12 दिसंबर 2024 तक आरबीआई यानि भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर पद का कार्यभार दिया है ।



आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल कितने वर्षो की होती है?
आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल कितने वर्षो की होती है?




1. भारतीय रिज़र्व बैंक कहां स्थित है?



भारतीय रिज़र्व बैंक मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित है ।



2. भारतीय रिज़र्व बैंक के संस्थापक कौन है?



भारतीय रिज़र्व बैंक के संस्थापक ब्रिटिश थे ।



3. भारतीय रिज़र्व बैंक के पहले गवर्नर कौन थे?



भारतीय रिज़र्व बैंक के पहले गवर्नर 'सर ओसबोर्न स्मिथ' थे ।



4. भारतीय रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण कब हुआ?



भारतीय रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण 1 जनवरी 1949 में हुआ था ।



5. शक्तिकांत दास कितने नंबर के गवर्नर है?



शक्तिकांत दास 25वें नंबर के गवर्नर है ।



6. भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर का कार्यकाल कितना होता है?



भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर का कार्यकाल तीन वर्षों की होती है, परंतू भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के तहत भारत सरकार इस अवधि को बढ़ा सकती है ।





ये भी जानिए:-


भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर की सूची

भारत में केंद्रीय बैंक की स्थापना कब हुई?

भारतीय रिज़र्व बैंक का मालिक कौन है?

भारतीय रिज़र्व बैंक के मुख्य कार्य क्या है?

रिज़र्व बैंक और व्यापारिक बैंक में क्या अंतर है?

भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना किसने किया?

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post