बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड क्या होता है और कैसे बनवाएं?

बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड क्या होता है - What Is Bajaj Finserv Emi Card In Hindi और बजाज ईएमआई कार्ड कैसें बनवाएं आईये जानते है क्योंकि आज-कल आपने अवश्य देखा या सुना होगा इलेक्ट्रॉनिक स्टोर या नाॅन इलेक्ट्रॉनिक स्टोर पर या आनलाईन वेबसाइट पर अधिकांश सामान (Product) ईएमआई पर बेचा जाता है । जी हां दोस्तों EMI एक ऐसी व्यवस्था है जिसके तहत आजकल महंगा से महंगा सामान (Product) कि पूरी किमत चुकाये बिना भी उसे खरीदा जा सकता है लेकिन इसके लिए आपके पास बजाज ईएमआई कार्ड होना आवश्यक है । चलिए बिना देर किए सीधे मुद्दे पर बात करते है और विस्तार से जानते है बजाज ईएमआई कार्ड क्या होता है? बजाज ईएमआई कार्ड कैसे बनवाएं जाते है? बजाज कार्ड बनाने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए? एवं बजाज ईएमआई कार्ड के फायदें और नुकसान क्या क्या है?



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड क्या होता है और कैसे बनवाएं?
बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड क्या होता है और कैसे बनवाएं?




EMI क्या होता है? - What Is EMI In Hindi 


Bajaj Finserv Emi Card Kya Hota Hai - इस कार्ड के बारें में समझने से पहले आपके लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि EMI क्या होता है? EMI का फुल फाॅर्म Equated Monthly Installment होता है जिसे हिंदी में "सामान्य मासिक किस्त" कहा जाता है । जैसा कि मैंने उपर में बता चुका हूं EMI एक ऐसी व्यवस्था है कोई भी व्यक्ति किसी भी वस्तु को पूरी किमत दिये बिना भी समानांतर छोटी छोटी रकम मासिक किस्तें द्वारा सामान की पूरी किमत चूका सकता है । यहां पर ये भी बात याद रखने योग्य है किसी भी वस्तु की पूरी किमत मासिक किस्तों में चुकाने की प्रक्रिया को EMI कहा जाता है । 



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड क्या होता है - What is Bajaj Finserv EMI Card In Hindi 


Bajaj EMI Card - बजाज फिनसर्व कंपनी द्वारा संचालित एक ऐसी कार्ड है जिसकी मदद से किसी भी समान (Product) को खरीदा जा सकता है यानि उस समान की पूरी किमत किस्तों में चूकाया जा सकता है । एक तरह से समझा जाए तो बजाज द्वारा लोगों को कार्ड के रूप में 4 लाख तक का प्री-अप्रूवल लोन देता है मतलब बजाज के ईएमआई कार्ड से विभिन्न प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक या नाॅन इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट No Cost EMI पर खरीदा जा सकता है, No Cost EMI का अर्थ की बात किया जाए तो किसी भी समान को बजाज कार्ड से ख़रीदारी करने और मसिक किस्त भरने के स्थिति में केवल प्रोडक्ट की कुल किमत चुकाना होता है ब्याज नही देना पड़ता है । वर्तमान समय में बजाज कार्ड सर्विस इंडिया की 950+ शहरों और 43,000+ स्टोर पर उपलब्ध है और आजकल ऑनलाइन या ऑफलाईन सभी जगहों पर बजाज ईएमआई कार्ड के उपयोग सें सामाने खरीदे जा रहे है ।



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड कैसे काम करता है? - How Bajaj Finserv EMI Card Works


आप समझ गए होंगे इस कार्ड से ईएमआई ख़रीदारी पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं देना होता है । जब भी आप इस कार्ड से कोई समान (Product) खरीदारी करते हैं तो आपके खरीद राशि को ऑटोमेटिकली EMI में परिवर्तित कर दिया जाता है एवं आप अपने सुविधा अनुसार EMI का भुगतान 3 , 6 . 9 , 12 , 18 या 24 महीने में कर सकते हैं । यह आपके कार्ड और खरीदे गए सामान (Product) पर भी निर्भर करता है । नोट करने की बात रह गई प्रत्येक महीने अकाउंट से निर्धारित समय पर ऑटोमेटिक बजाज फिनसर्व द्वारा ही पैसे काटे जातें है । 


उदाहरण:- मान लीजिए किसी व्यक्ति ने ₹15000 का कोई सामान खरीदा तो उसे 6 महीने में ₹2500 की मासिक किस्तों में भुगतान करना होगा । इससे व्यक्ति के जेब पर कोई दबाव भी नहीं पड़ता और आसानी से अपनी पंसदीदा सामान की उधार खरीदारी करने के उपरांत उसकी पूरी किमत चूकता कर सकता है ।



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड के प्रकार - Types Of Bajaj Finserv EMI Card In Hindi


Gold Card - इस कार्ड को बनवाने के लिए लगभग 567 रुपये Pay करने पड़ सकते है ।


Titanium Card - इस कार्ड को बनवाने के लिए लगभग 884 रुपये Pay करने पड़ सकते है ।



बजाज कार्ड बनाने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए - What Are The Documents Required To Create A Bajaj Finserv EMI Card?


1. न्यूनतम आयु 21 वर्ष (Age 21 Years)

2. पासपोर्ट साईज फोटो (Passport Size Photo)

3. आधार कार्ड (Aadhar Card)

4. पेन कार्ड (Pen Card)

4. बैंक खाता (Bank Account)

5. इनकम रशीद (Salary Slip)

6. कैंसिल चेक (Cancel Cheque)



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड कैसे बनवाएं - How to get Bajaj Finserv EMI Card


Bajaj Finserv EMI Card बनवाने के दो तरीके है । नीचे दोनो तरीके निम्न प्रकार है:- 


ऑनलाइन अप्लाई - बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड आनलाईन बनाने के लिए सबसे पहलें www.bajajfinserv.com वेबसाइट पर जाना होता है और अपनी मोबाइल नंबर इंटर तथा ओटीपी सबमिट करने के उपरांत डोकोमेन्ट्स डालकर Verify के पश्चात बजाज ईएमआई कार्ड बनाया जा सकता है । लेकिन याद रखे यही पर काम खत्म नही होता आनलाईन पूरी प्रक्रिया करने के बाद भी बजाज Employed सारे डोकोमेन्ट्स वैरीफाई करने व्यक्ति के घर पर अवश्य आता है तत्पश्चात ही कार्ड Approved किया जाता है ।


ऑफलाईन अप्लाई - बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड बनवाने के लिए यह एक आसन एवं सरल तरीका है । जैसा कि हमने आपको बताया बजाज फिनसर्व कार्ड सर्विस इंडिया की 950+ शहरों और 43,000+ स्टोर पर उपलब्ध है । और वर्तमान समय में यह सर्विस अधिकांश इलेक्ट्रॉनिक दूकान पर देखने को मिल जाती है । प्रोडक्ट की ख़रीदारी करते टाईम Bajaj Finserv EMI Card का ऑप्शन दिया जाता है और उस दूकान पर बजाज Employees अवश्य होते है उसके जरिए बजाज कार्ड बनाया जा सकता है या डायरेक्ट बजाज ब्रांच ऑफिस में जाकर अप्लाई किया जा सकता है । 



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड के फायदें - Benefits Of Bajaj Finserv EMI Card In Hindi


  • Flipcart, Amazon एवं अन्य शापिंग साईट पर No Cost EMI चार्ज पर मोबाइल, टीवी, फ्रीज एवं अन्य गैजेट्स खरीदे जा सकते है।


  • एक बार बजाज कार्ड बन जाने के बाद बार-बार डोकोमेन्ट्स देने की आवश्यकता नही पड़ती है।


  • सामान खरीदते वक्त अपनी सुविधानुसार 3, 6, 9, 12, 18, 24 महीने की EMI छोटी-छोटी किस्तों में चुकता किया जा सकता है ।


  • बजाज कार्ड उपयोगकर्ता को समय-समय पर विभिन्न प्रकार के प्रोडक्ट ख़रीदारी के लिए Offer मिलते रहते है ।


  • बजाज फिनसर्व कार्ड के लिए कोई फौजदारी शुल्क (foreclosure charges) नही देना पड़ता है ।



बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड के नुकसान - Disadvantages Of Bajaj Finserv EMI Card In Hindi


  • इस कार्ड के जरिए  आनलाईन शापिंग साईट पर ख़रीदारी करने के स्थिति में केवल प्रोडक्ट के कुल किमत No Cost यानि ब्याज नही देना होता है परंतू वही प्रोडक्ट को आफलाईन ख़रीदारी में प्रोसेसिंग फिस के नाम पर प्रोडक्ट की कुल किमत में चिपका दिया जाता है ।


  • किसी कारणवश टाईम पर EMI भरने में असमर्थ होने के स्थिति में बजाज फिनसर्व की ओर से अतिरिक्त पेनाल्टी के साथ बैंक चार्ज किया जाता है ।


  • कोई व्यक्ति बजाज ईएमआई कार्ड द्वारा किसी भी प्रोडक्ट की ख़रीदारी करने के बाद यदि जानबूझकर ईएमआई नही भरेगा तो बजाज द्वारा उसकी सिविल स्कोर जीरो कर दिया जा सकता है जिसके कारण व्यक्ति भविष्य में किसी भी प्रकार का लोन लेने लायक नही बचता एवं उस व्यक्ति के खिलाफ लीगल एक्शन भी लिया जा सकता है ।


ये भी पढें - ओवरड्राफ्ट क्या होता है?

ये भी पढें - इनकम टैक्स क्या होता है?

Post a Comment

Previous Post Next Post