भारत में पहली बार बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब हुआ Bharat Mein Pahli Baar Banko Ka Rashtriyakaran Kab Hua इसपर बात किया जाए तो भारत में पहली बार 19 जुलाई 1969 को 14 बड़े निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ था । इसके बाद 15 अप्रैल 1980 में 06 बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ । लेकिन सबसे पहले 01 जनवरी 1949 में एकमात्र भारतीय रिज़र्व बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था । इस तरह भारत में कई और भी बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ । परंतु वर्तमान भारत में राष्ट्रीयकृत बैंकों की संख्या उतनी नही है जितनी बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ था । क्योंकि हाल ही के कुछ वर्षों में भारत सरकार ने छोटे राष्ट्रीयकृत बैंकों को बड़े राष्ट्रीयकृत बैंक के साथ मर्ज कर दिया है ।



भारत में पहली बार बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब हुआ
भारत में पहली बार बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब हुआ




1969 में राष्ट्रीयकरण किए गए प्रमुख बैंकों के नाम


1. देना बैंक

2. यूको बैंक

3. केनरा बैंक

4. इंडियन बैंक

5. सेंट्रल बैंक

6. यूनाइटेड बैंक

7. सिंडिकेट बैंक

8. यूनियन बैंक

9. इलाहाबाद बैंक

10. बैंक ऑफ इंडिया

11. पंजाब नेशनल बैंक

12. बैंक ऑफ बड़ौदा

13. बैंक ऑफ महाराष्ट्र

14. इंडियन ओवरसीज बैंक



1980 में राष्ट्रीयकरण किए गए प्रमुख बैंकों के नाम


1. आंध्रा बैंक

2. विजया बैंक

3. कारपोरेशन बैंक

4. पंजाब एंड सिंध बैंक

5. न्यू बैंक ऑफ इंडिया

6. ओरिएंटल बैंक ऑफ इंडिया



FAQ


भारत में पहली बार बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब हुआ


भारत में पहली बार 19 जुलाई 1969 को 14 बड़े निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ था ।



बैंकों का राष्ट्रीयकरण किसने किया था?


1969 में 14 निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी ने किया था ।



बैंकों का राष्ट्रीयकरण क्यों किया गया?


बैंकों का राष्ट्रीयकरण करने के मुख्य कारण था कि गरीबो तक बैंकिंग सुविधाएँ नही पहुंच रही थी । बैंकिंग सेवाएँ केवल धनपतियो तक सीमित था ।



ये भी जानिए:-


भारत का पहला राष्ट्रीयकृत बैंक कौन सा है?

भारतीय स्टेट बैंक का राष्ट्रीयकरण कब हुआ?

भारत में बैंकों का राष्ट्रीयकरण कितनी बार हुआ?

हरित क्रांति के बाद कितने बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ?

वर्तमान भारत में राष्ट्रीयकृत बैंकों की संख्या कितनी है?

Post a Comment